हिन्दी

कुम्भ राशि मासिक राशिफल (Kumbh Rashi Masik Rashifal)

कुम्भ राशि मासिक राशिफल (Kumbh Rashi Masik Rashifal)

कुम्भ मासिक राशिफल अप्रैल 2021

माह अप्रैल 2021 की गृह स्थितियों अनुसार मासिक फल निम्न प्रकार है:

इस मास श्री सूर्य 13 अप्रैल से पराक्रम भावगत गोचर करेंगे। श्री मंगल 13 अप्रैल से सुत भाव गत गोचर करेंगे। श्री बुध 01 अप्रैल से धन भाव गत तथा 16 अप्रैल से पराक्रम भावगत करेंगे। श्री वृहस्पति 06 अप्रैल से लग्न भाव गत गोचर करेंगे। श्री शुक्र 10 अप्रैल से पराक्रम भावगत गोचर करेंगे। तथा श्री शनि पूर्ववत व्यय भाव में गोचर करेंगे। राहू का गोचर सुख भाव में एवं केतु का गोचर कर्म भाव में रहेगा।

कैरियर एवं व्यवसायः अप्रैल 2021 कुम्भ राशि के जातक एवं जातिकाओं को संबंधित क्षेत्रों के कारोबार व कैरियर को लेकर कशमकश करनी पड़ेगी। चाहे वह उत्पादन व विक्रय से जुड़े हुये क्षेत्र हो या फिर प्रबंधन व तकनीक, चिकित्सा आदि के क्षेत्रों में कैरियर को चमकाने की बातें हो, कहीं न कहीं अवरोधों की स्थिति रहेगी। चाहे वह कानूनी पेंच हो या फिर स्थानीय बाजार में उभर रही चुनौतियों से निपटने की बातें हो, परेशानी रहेगी। क्योंकि ग्रहीय  गोचर इस दरम्यान बहुत सकारात्मक नहीं रहेगा। ऐसे में संबंधित क्षेत्रो में मतिभ्रम सशंय या फिर परेशानियों की स्थिति रहेगी। किन्तु इस माह के तीसरे सप्ताह से श्री सूर्य का गोचर कार्य व व्यापार में अड़चनों को दूर करने वाला तथा धन धान्य को बढ़ाने वाला रहेगा। जिससे आपकी प्रसन्नता बढ़ी हुई रहेगी।

प्रेम एवं संबंधः कुम्भ राशि अप्रैल 2021 में इस राशि के जातक एवं जातिकाओं को पारिवारिक जीवन को सुखमय बनाने तथा आधुनिक सुविधाओं को बढ़ाने के मौके बने हुये रहेंगे। किन्तु कुछ मामलो में परिजनों के सेहत के लेकर परेशान रहेंगे। या फिर मतभेदों के गहराने की स्थिति रहेगी। चाहे वह वैवाहिक जीवन की बातें हो या फिर निकट रिश्तेदारी की, सूझबूझ के क्रम को बनाकर चलने में फायदा रहेगा। वैसे इस माह के तीसरे सप्ताह से घर व परिवार के स्तर में परस्पर सहयोग व समांजस्य बना हुआ रहेगा। जिससे घर व परिवार में मांगलिक व घर की साज-सज्जा को बढ़ाने में सहमति बनी हुई रहेगी। वहीं पे्रम व चाहत के संदर्भों में अच्छे लाभ की स्थिति इस माह बनी हुई रहेगी। जिससे साथी को लेकर उत्साह बना हुआ रहेगा। ऐसे में वांछित वस्तुओं की खरीद की तरफ रूख रहेगा।

वित्तीय स्थितिः अप्रैल 2021 में कुम्भ राशि के जातक एवं जातिकाओं को नकदी पूंजी कमाने व संबंधित व्यापार में मुनाफे को बढ़ाने के अवसर बने हुये रहेंगे। चाहे वह प्रबंधन व शिक्षण तथा प्रशिक्षण के क्षेत्र हो या फिर प्रशासन व प्रबंधन, उत्पादन व विक्रय के क्षेत्र हो निश्चित तौर पर लाभ की स्थिति बनी हुई रहेगी। वैसे इस माह विदेश व पूंजी निवेश के मामलों में अच्छी बढ़त के अवसर बने हुये रहेंगे। किन्तु इस माह के तीसरे सप्ताह से संबंधित क्षेत्रों से वांछित लाभ की स्थिति रहेगी। क्योंकि श्री सूर्य का गोचर आपको धन व सम्मान को उम्दा किस्म करने वाला रहेगा। हालांकि इस माह के आधे भाग तक संबंधित  पूंजी के मामलों में व्यय की स्थिति बनी हुई रहेगी। चाहे व कारोबारी ढ़ाचें को निर्मित करने की बातें हो या फिर अन्य कोई व्यय हो, कुल मिलाकर आय व व्यय का औसत इस माह मिश्रित फलों से युक्त रहेगा।

शिक्षा एवं ज्ञानः अप्रैल 2021 में कुम्भ राशि के जातक एवं जातिकायें पढ़ने-लिखने व संबंधित विषयों में अच्छी पकड़ बनाने के अवसरों से युक्त रहेंगे। किन्तु यह आपके निजी विवेक व सोच पर निर्भर रहेगा। कि आप किस प्रकार से विषयों के प्रति जागरूक होते हैं। यानी इस माह संबंधित अध्ययन व अध्यापन के क्षेत्रों में सफल होने के अवसर बने हुये रहेंगे। हालांकि इस माह के पहले व दूसरे सप्ताह में प्रतियोगी व क्रीड़ा के क्षेत्रों में मध्यम किस्म के परिणाम रहेगे। ऐसे में निकट प्रतिद्वन्दी आपको कड़ी टक्कर देता हुआ रहेगा। अतः अपनी तैयारियों की समीक्षा कर लें, जिससे संबंधित शिक्षा व ज्ञान में सफलता का परचम लहराने में सक्षम रहेंगे। क्योंकि श्री गुरू का गोचर आपके ज्ञान व विवेक को उम्दा किस्म का करने वाला रहेगा। वहीं श्री सूर्य का गोचर भी इस माह के तीसरे सप्ताह संबंधित विषयों में सफल करने और ज्ञान-विज्ञान को निखारने के अवसरों को देने वाला रहेगा।

स्वास्थ्यः अप्रैल 2021 के महीने मे कुम्भ राशि के जातक एवं जातिकाओं को सेहत को सुखद व क्षमतावान बनाने की दिशा में अच्छी प्रगति बनी हुई रहेगी। वैसे इस माह सेहत में उतार-चढ़ाव का क्रम हो सकता हैं। ऐसे में शरीर की स्थूलता परेशान करने वाली रहेगी। अतः जरूरी उपचारों के साथ नियमित व्यायामों के क्रम को कमजोर न करें, तो अच्छे परिणाम आपके पाले में रहेगे। यदि आप उम्रदराज हैं, तो इस माह कफ, वित्तादि परेशान करने वाले रहेंगे। अतः स्वास्थ्य के प्रति लापरवाह न रहें, तो अच्छा रहेगा। अन्यथा रोग व पीड़ायें परेशान कर सकती है। वहीं श्री सूर्य का गोचर इस माह के तीसरे सप्ताह में आपके रोग प्रतिरोध क्षमताओं को उच्च करने वाला तथा शारीरिक पीड़ाओं व रोगों को दूर करने में सहायक बना हुआ रहेगा। जिससे शरीर की रौनकता बढ़ी हुई रहेगी।

उपयोगी उपायः ऊॅ ग्रां ग्रीं ग्रौं सः गुरवे नमः मंत्र का जाप करे या करवायें।