हिन्दी

मेष राशि मासिक राशिफल (Mesh Rashi Masik Rashifal)

मेष राशि मासिक राशिफल (Mesh Rashi Masik Rashifal)

मेष मासिक राशिफल जुलाई 2021

माह जुलाई 2021 की गृह स्थितियों अनुसार मासिक फल निम्न प्रकार है:

सूर्य इस मास 16 जुलाई से कर्क राशिगत गोचर करेंगे। श्री मंगल 20 जुलाई से सिंह राशि गत गोचर करेंगे। श्री बुध 07 जुलाई से मिथुन राशि तथा 25 जुलाई से कर्क राशि मे गोचर करेंगे। श्री वृहस्पति पूर्ववत् कुम्भ राशि गत गोचर करेंगे। श्री शुक्र 17 जुलाई से सिंह राशि गत करेंगे। श्री शनि पूर्ववत मकर राशि में गोचर करेंगे। राहू का गोचर पूर्ववत वृष राशि एवं केतु का गोचर पूर्ववत वृश्चिक राशि में रहेगा।

कैरियर एवं व्यवसायः सन् 2021 जुलाई माह में मेष राशि के जातक एवं जातिकाओं को चिकित्सा, कला, फिल्म, अभिनय, प्रशासन व प्रबंधन तथा सामान्य काम-काजी जीवन में कैरियर और काम को शानदार बनाने के यद्यपि अवसर तो रहेंगे। किन्तु चुनौतियां कम नहीं  रहेगी। क्योंकि संबंधित बाजार व क्षेत्रों में बढ़ती हुई प्रतिस्पर्धा मांग व आपूर्ति की गुणवत्ता को लेकर कार्य व व्यापार में इस माह का गोचर परस्पर पक्षों के मध्य तकरार को बढ़ाने वाला रहेगा। वहीं निजी व सरकारी सेवाओं में पदोन्नति तथा मान सम्मान को बनाने की चुनौती रहेगी। क्योंकि श्री सूर्य का गोचर कहीं न कहीं परेशानी को देने वाला रहेगा। हालंाकि इस माह का गोचर चुनौतियों के बाद शानदार सफलता के द्वार खोलने वाला रहेगा। अतः  कठिनाइयों से घबड़ाने की जरूरत नहीं हैं, क्योंकि जहाॅ कू्रर ग्रह परेशानी देने वाला रहेगा। वहीं शुभ ग्रह शुभता को बढ़ाने वाला रहेगा।

प्रेम एवं संबंधः जुलाईे 2021 मेष राशि वाले को घर व परिवार के लोगों के साथ संबंधों को मधुर बनाने के लिए ध्यान पूर्वक चलने की जरूरत रहेगी। हालांकि इस माह के पहले दो सप्ताहों तक घर व परिवार के सहयोग से अधिकांश कामों को पूरा करने में सक्षम रहेंगे। यानी दीर्घकाल से किए जा रहे प्रयासों के सफल होने आसार बने हुए रहेंगे। किन्तु इस माह के दूसरे सप्ताह से कुछ कामों को पूरा करने में संबंधों में परस्पर सहयोग की कमी बनी हुई रहेगी। वहीं पे्रम संबंधों में साथी के मध्य उतार-चढ़ाव की स्थिति बनी हुई रहेगी। अतः किसी ऐसे मामले जो कि निजी संबंधों के बहुत ही करीब हो, उन्हें सूझबूझ कर ही उठायें अन्यथा सूर्य का ग्रहीय गोचर परेशान करने वाला रहेगा। वहीं 20 जुलाई से मंगल का गोचर संबंधों में उग्रता को बढ़ाने वाला तथा गुस्से को दिलाने वाला रहेगा। अतः अपने सूझबूझ के क्रम को कमजोर न करें, तो अच्छा रहेगा। यानी इस माह का ग्रहीय गोचर संबंधों मे अधिक तनाव को देने वाला रहेगा।

वित्तीय स्थितिः जुलाई 2021 में मेष राशि के जातक एवं जातिकाओं आर्थिक मामलों को प्रगति देने के लिए किसी सम्भावनाओं से भरे बाजारों का सर्वे करने की जरूरत रहेगी। यानी इस माह के पहले दो सप्ताहों तक संबंधित उद्योग धंधों को बढ़ाने के लिए यात्रा व प्रवास में जाने की जरूरत बनी हुई रहेगी। यद्यपि श्री सूर्य का गोचर कुछ अच्छे मौकों को भी देने वाला रहेगा। किन्तु आवश्यक साधनों को जुटाने में अधिक व्यय की स्थिति बनी हुई रहेगी। यानी तकनीक खराबी का समना रहेगा। अतः संबंधित पहलुओं का पूरा ध्यान देने की जरूरत रहेगी। क्योंकि श्री सूर्य का गोचर इस माह के पहले सप्ताह तक तो अच्छे फलों का प्रदाता रहेगा। किन्तु इस माह के तीसरे सप्ताह से संबंधित उद्योग धंधों और कार्य में आमदनी को कमजोर करने वाला तथा कुछ परेशानियों को देने वाला रहेगा। किन्तु मंगल का गोचर  चिकित्सा, तकनीक, प्रबंधन तथा सुरक्षा के क्षेत्रों में बढ़त को देने वाला रहेगा।

शिक्षा एवं ज्ञानः जुलाई 2021 में मेष राशि के जातक एवं जातिकाओं को संबंधित क्षेत्रों में ज्ञान को अर्जित करने व कार्मिक दक्षता को बढ़ाने के अवसर रहेंगे। हालांकि कुछ पेचीदें कामों को पूरा करने की चुनौती बनी हुई रहेगी। अतः अपने सूझबूझ को कमजोर न करें, तो अच्छा रहेगा। क्योंकि आपके शिक्षा दीक्षा को उच्च करने की स्थिति इस माह सूर्य देते हुए रहेंगे। वहीं श्री गुरू तथा शुक्र का गोचर कहीं न कहीं संबंधित प्रतियोगी क्षेत्रों में अच्छी बढ़त को देने वाला रहेगा। यदि आप प्राकृतिक व भौतिक वातावरण के क्षेत्रों में अध्ययन को बढ़ा रहे हैं, तो निश्चित तौर पर संबंधित अनुसंधान को अंतिम रूप देने की चुनौती रहगी। किन्तु इस माह के तीसरे सप्ताह से श्री शुक्र का गोचर आपको फिल्मांकन, चिकित्सा, सुरक्षा, सैन्य के क्षेत्रों में वांछित बढ़त को देने वाला रहेगा। वहीं मंगल का गोचर संबंधित क्षेत्रों में चोटादि भय को दे सकता हैं, अतः ऐसे काम में पूर्णतः सावधान रहें, अन्यथा हानि की स्थिति रहेगी।

स्वास्थ्यः जुलाई 2021 में मेष राशि के जातक व जातिकाओं को तन की सुन्दरता व मन की प्रसन्नता को उच्च करने के अवसर बने हुए रहेगे। परिणामतः इस माह के पहले दो सप्ताहों तक अच्छे सेहत के स्वामी रहेगे। हालांकि राशि स्वामी श्री मंगल का गोचर कहीं न कहीं शरीर में रोग व पीड़ाओं को देने वाला रहेगा। अतः अपने खान-पान को संतुलित रखते हुये उपयोगी व्यायामों को करने में कोताही न करें, अन्यथा हानि व रोग के उत्पन्न होने के आसार रहेंगे। क्योंकि ग्रहीय गोचर ऐसी उर्जा को उत्पन्न करने वाला रहेगा। जिससे सेहत के प्रति लापरवाह बने हुए रहेंगे। यानी ग्रहीय गोचर से उत्पन्न फल जहाॅ आपके लिए कुछ मुश्कििलों को देने वाला रहेगा। वहीं सेहत को सुरक्षित व संरक्षित करने का उत्तर दायित्व आप पर बना हुआ रहेगा। क्योंकि मंगल का गोचर रक्तादि विकारों तथा सेहत में रोग भय को उत्पन्न करने वाला रहेगा। अतः अपनी सूझबूझ को कायम रखें तो अच्छा रहेगा।

उपयोगी उपायः श्री हनुमान चालीसा का पाठ करें।