मकर राशि मासिक राशिफल

मकर राशि मासिक राशिफल

मकर मासिक राशिफल अक्टूबर 2018

माह अक्टूबर 2018 की गृह स्थितियों अनुसार मासिक फल निम्न प्रकार है:

कैरियर और व्यापारः अक्टूबर माह में मकर राशि के जातक व जातिकाओं को आजीविका से संबंधित प्रत्येक पहलुओं को संवारने की प्रबल तमन्ना रहेगी। वैसे इस माह के दूसरे व चतुर्थ भाग प्रतियोगी, क्रीड़ा, प्रंबंधन, फिल्मादि के संबंधित क्षेत्रों में सफलता देने वाले रहेगे। आपकी की गई मेहनत व्यर्थ नही जाने वाली रहेगी। भले ही कड़ा परिश्रम करना पड़े। किन्तु कामयाबी आपकी झोली में रहेगी। इस मास के प्रथम व तृतीय भाग में चुनौतियां अधिक रहेगी।

प्रेम एवं सम्बंधः अक्टूबर माह में मकर राशि के जातक व जातिकाओं को पारिवारिक जीवन के मेल-मिलाप को बढ़ाने तथा स्वजनों के मध्य चल रहे मनमुटाव को समाप्त करने में महती प्रगति रहेगी। निजी संबंधों की प्रीति में इस माह इज़ाफा रहेगा। इस माह के प्रथम, द्वितीय व अंतिम भाग में संबंधों को अधिक सुन्दर तथा सुखद बनाने के उपायों पर विचार रहेगा। किन्तु तृतीय भाग में संबंधों में चुनौती उभर सकती है।

वित्तीय स्थितिः मकर राशि के जातक एवं जातिकाओं को अक्टूबर मास में वित्तीय क्षमताओं को बढ़ाने में वांछित तरक्की के योग रहेंगे। संबंधित आय के स्रोतों से बढ़िया लाभ प्राप्त करने के तौर-तरीको को और सुन्दर बनाने की पहल रहेगी। इस महीने के पहले, दूसरे व चौथे भाग में आप संबंधित आय के स्रोतों से वांछित लाभ प्राप्त करने में कामयाब रहेगे। हो सकता है कि इस मास का तृतीय भाग कुछ मुश्किल सा प्रतीत हो।

शिक्षा एवं ज्ञानः अक्टूबर मास में मकर राशि के जातक व जातिकाओं को शिक्षा व ज्ञान के क्षेत्रों में बढ़त तो रहेगी ही, बहुत सम्भव है कि इस मास आपको बुद्धिजीवियों की श्रेणी में शामिल कर पुरूस्कृत किया जाए। इस माह के प्रथम, द्वितीय व चतुर्थ भाग में आप प्रतियोगी क्षेत्रों में कामयाबी का परचम लहराएंगे। इसके लिए पूरे तन मन से प्रयासों को जारी रखें। इस माह के तीसरे भाग में चुनौतियों की तीव्रता रहेगी।

स्वास्थ्यः स्वास्थ के मामलों में अक्टूबर माह मकर राशि के जातक व जातिकाओं को अच्छे परिणाम देने वाला रहेगा। इस माह आप शरीर को अधिक सुगठित व बलवान बनाने की प्रक्रिया पर अमल करेंगे। वैसे इस माह के प्रथम व तृतीय भाग सेहत के लिए अनुकूल रहेगे। शेष भाग में चिंताएं उभरने के आसार हैं।

उपयोगी उपायः मकर राशि के जातकों को निम्नांकित उपाय करने चाहिए, जो निश्चित ही फलदायक रहेगेः

  1. हरे राम हरे कृष्ण मंत्र का जाप श्रद्धा के साथ करें।
  2. तीर्थ के जलों में तिल व हल्दी को मिलाकर स्नान करें।
  3. देवालय, विद्यालय, जलाशय, मार्ग में तुलसी, सुगन्धित पुष्प व छायादार वृक्ष लगाएं।
  4. गरीब बच्चों को मीठी वस्तुओं व शैक्षिक सामाग्री का दान दे।