हिन्दी

मकर राशि मासिक राशिफल (Makar Rashi Masik Rashifal)

मकर राशि मासिक राशिफल (Makar Rashi Masik Rashifal)

मकर मासिक राशिफल मार्च 2021

माह मार्च 2021 की गृह स्थितियों अनुसार मासिक फल निम्न प्रकार है:

सूर्य इस मास 14 मार्च से पराक्रम भावगत गोचर करेंगे। श्री मंगल पूर्ववत सुत भावगत गोचर करेंगे। श्री बुध 11 मार्च से धन भावगत गोचर करेंगे। श्री वृहस्पति पूर्ववत लग्न भाव गत गोचर करेंगे। श्री शुक्र 17 मार्च से पराक्रम भावगत गोचर करेंगे। तथा श्री शनि पूर्ववत लग्न भाव में गोचर करेंगे। राहू का गोचर पंचम भाव में एवं केतू का गोचर आय भाव में रहेगा।

कैरियर एवं व्यवसायः मार्च 2021 मकर राशि के जातक एवं जातिकाओं को संबंधित उद्योग धंधों को गति देने के अवसर बने हुये रहेंगे। जिससे आपके हौसले बुलंद रहेंगे। चाहे वह खनन व उत्पादन से जुड़े हुये क्षेत्र हो या फिर तरलीय पदार्थों के विक्रय आदि के मामलें हो इस माह बढ़त का दौर बना हुआ रहेगा। सामाजिक व राजनैतिक जीवन में अच्छी बढ़त के अवसर बने हुये रहेंगे। यदि आप अनुसंधान व तकनीक आदि के क्षेत्रों में कैरियर को शानदार बनाने की तमन्ना रखे हुये है।, तो इस माह निश्चित तौर पर बढ़त की स्थिति रहेगी। क्योंकि श्री सूर्य का गोचर इस माह 14 मार्च से आपके श्री यश व कीर्ति को बढ़ाने वाला रहेगा। परिणामतः कार्य व व्यवसाय में वांछित सफलता की स्थिति बनी हुई रहेगी। अतः संबंधित क्षेत्रों में मुस्तैदी को कमजोर न होने दें, तो अच्छा रहेगा।

प्रेम एवं संबंधः मकर राशि मार्च 2021 में इस राशि के जातक एवं जातिकायें स्वजनों के मध्य परस्पर सहयोग बढ़ाने तथा उन्हें वक्त देने में लगे हुये रहेंगे। इस माह घर व परिवार में परिजनों में मध्य किसी मांगलिक कामों को सम्पन्न करने में सहमति बनी हुई रहेगी। वहीं वैवाहिक जीवन में सहयोग व चाहत की स्थिति बनी हुई रहेगी। स्वजनों को वक्त देने तथा घर परिवार की सुविधाओं को बढ़ाने में दिलचस्पी रहेगी। किन्तु पे्रम संबंधों में इस माह साथी के मध्य कुछ तनाव उभर सकते हैं, या फिर वांछित संवादों में कमी होने के आसार बने हुये रहेंगे। श्री मंगल का गोचर निजी संबंधों में उत्तेजित करने वाला रहेगा। ऐसे में रिश्ते को निभाने की समझ होना चाहिये अन्यथा परेशानी बढ़ी हुई रहेगी। यानी इस माह मिलेजुले परिणाम रहेंगे।

वित्तीय स्थितिः मार्च 2021 में मकर राशि के जातक एवं जातिकाओं को संबंधित आय के स्रोतों से अच्छे लाभ की स्थिति बनी हुई रहेगी। जिससे प्रसन्न होते रहेंगे। चाहे वह राजनैतिक जीवन हो या फिर सामाजिक जीवन हो इस माह धन कमाने और जुटाने में अच्छी प्रगति रहेगी। यह माह आपकी सुख व सुविधाओं को भी अच्छा करने वाला रहेगा। ऐसे में आप व्यापारिक गतिविधियों को संचालित करने और कामों को पूरा करने में लगे हुये रहेंगे। इस माह दिये हुये धन की वसूली में सफलता रहेगी। क्योंकि श्री सूर्य का गोचर आपके धन व सम्मान को उच्च करने के अवसरों से युक्त रहेगा। परिणामतः अच्छे लाभ के भागी बने हुये रहेंगे। यदि आप सामान्य काम-काजी जीवन से जुडे़ हैं, तो उसी स्तर का लाभ बना हुआ रहेगा। पूंजी निवेश व विदेश में इस माह अच्छे अवसर बने हुये रहेंगे।

शिक्षा एवं ज्ञानः मार्च 2021 में मकर राशि के जातक एवं जातिकाओं को संबंधित शैक्षिक  संस्थानों को गति देने तथा उनकी विश्वसनीयता को बढ़ाने के अवसर बने हुये रहेंगे। चाहे वह अध्ययन के क्षेत्रों हो या फिर अध्यापन के हो, इस माह ग्रहीय गोचर के कारण वांछित सफलता की स्थिति बनी हुई रहेगी। तकनीक व फिल्म निर्माण के लिहाज से भी यह माह अनुकूल बना हुआ रहेगा। किन्तु संबंधित आध्यात्म के क्षेत्रों में सफल होने तथा ज्ञान को उम्दा किस्म का बनाने हेतु अनावश्यक तर्को से बचने की जरूरत भी रहेगी। क्योंकि पाप ग्रहीय गोचर मन को उत्तेजित व विचलित करने की प्रक्रिया को दे सकता है। अतः सावधानी की जरूरत रहेगी। यदि आप तकनीक हुनर को निखारने व शिक्षण तथा प्रशिक्षण के क्षेत्रो से जुड़े हैं, तो निश्चित तौर पर इस माह सफल रहेंगे। किन्तु अपनी तैयारियों की समीक्षा जरूर कर लें।

स्वास्थ्यः मार्च 2021 मे मकर राशि वाले शरीर को चुस्त तथा दुरूस्त रखने में लगे हुये रहेंगे। आपके द्वारा किये गये प्रयासों का अच्छा लाभ बना हुआ रहेगा। क्योंकि इस माह ग्रहीय गोचर आपके लिये शुभ व सकारात्मक परिणामों को देने वाला रहेगा। यदि शरीर में कोई रोग व पीड़ा है, तो उसके दूर होने के अच्छे अवसर हैं, अतः प्रयासों को तेज करें तो लाभ रहेगा। क्योंकि इस माह का गोचर जहाँ शरीरिक रूप से आपको सुदृढ़ करने वाला रहेगा। वहीं  मानसिक रूप से भी आगे बढ़ाने वाला रहेगा। अतः नियमित दिनचर्या के क्रम को अवरूद्ध न होने दें, तो अच्छा रहेगा। यानी इस माह श्री सूर्य का गोचर आपके यश व कीर्ति के साथ आपको शारीरिक बल को बढ़ाने में सहायक रहेगा। ऐसे में चर्मादि विकारों के दूर होने के अवसर बने हुये रहेंगे।

उपयोगी उपायः श्रीराम रक्षा स्रोत्र का पाठ करें। या फिर करवायें।