हिन्दी

मकर राशि मासिक राशिफल (Makar Rashi Masik Rashifal)

मकर राशि मासिक राशिफल (Makar Rashi Masik Rashifal)

मकर मासिक राशिफल सितम्बर 2021

माह सितम्बर 2021 की गृह स्थितियों अनुसार मासिक फल निम्न प्रकार है:

सूर्य इस मास 16 सितम्बर से भाग्य भाव गत गोचर करेंगे। श्री मंगल 06 सितम्बर से भाग्य भावगत गोचर करेंगे। श्री बुध 22 सितम्बर से कर्म भावगत गोचर करेंगे। श्री वृहस्पति 14 सितम्बर से वक्री गति से लग्न भाव गत गोचर करेंगे। तथा श्री शुक्र 05 सितम्बर से कर्म भाव गत गोचर करेंगे। तथा श्री शनि पूर्ववत मकर राशि में गोचर करेंगे। राहू का गोचर पूर्ववत वृष राशि एवं केतू का गोचर पूर्ववत वृश्चिक राशि में रहेगा।

कैरियर एवं व्यवसायः सितम्बर 2021 मकर राशि के जातक एवं जातिकायें वांछित कंपनियों में नियुक्ति पाने व निजी व सरकारी संस्थानों के साथ व्यापारिक समझौतों को अंतिम रूप देने में लगे हुये रहेंगे। यदि आप कोई सक्षम राजनैतिक ओहदे पर बैठैं तो निवेश को प्रोत्साहित करने के रास्तों को निर्मित करने में लगे हुये रहेंगे। जिससे युवा शक्ति को रोजगार से जोड़ने व व्यवसायिक विस्तार को गति मिलती हुई रहेगी। हालांकि विरोधी पक्ष लगातार परेशान करने की साजिश रचते रहेंगे। वहीं सामान्य जीवन में भी कैरियर व व्यवसाय को अच्छा करने के बेहतर मौके रहेंगे। यदि आप डिजिटल व ग्लोबल दुनियां से जुड़ने के शौकीन है। और वहॉ  कैरियर की ऊंचाई देख रहें हैं, तो यह गोचर सकारात्मक रहेगा। अतः प्रयासों को जारी रखें, तो अच्छा रहेगा। क्योंकि श्री सूर्य का गोचर इस माह के पहले दो सप्ताहों तक कई मौकों को देने वाला रहेगा। किन्तु माह के बीते सप्ताहों के बाद कुछ परेशानियां रहेगी।

प्रेम एवं संबंधः मकर राशि सितम्बर 2021 में इस राशि के जातक एवं जातिकायें घर व परिवार में चल रहे मनमुटाव की छानबीन करने में लगे हुये रहेंगे। जिससे उनकी नाराजगी को दूर कर घर में सकारात्मक माहौल बनाया जा सके। हालांकि इस माह का ग्रहीय गोचर कहीं न कहीं संबंधों में तीखी नोक-झोंक व दूरियों को देने वाला रहेगा। जिससे मन सतत् परेशान रहेगा। किन्तु आपको रिश्तें की डोर को और पुष्ट करने की तरफ बढ़ने की जरूरत रहेगी। वहीं ग्रहीय गोचर घर व परिवार की जिम्मेदारियों को उठाने के लिए उत्साहित करते हुये रहेंगे। हालांकि आप अपने निजी संबंधों में साथी के प्रति चाहत से भरे हुये रहेंगे। ऐसे में उनकी नाराजगी दूर करने के तरीकों पर अमल करते रहेंगे। क्योंकि श्री शुक्र बहुत हद तक आपके प्रेम व चाहत के मामलों में सकारात्मक रहेंगे। जिससे प्रेम संबंधों में साथी को रिझाने के लिए कोई नया आइडिया अपना सकते हैं।

वित्तीय स्थितिः सितम्बर 2021 में मकर राशि के जातक एवं जातिकायें आर्थिक स्रोतों को पुष्ट करने तथा उनकी बुनियाद को जानदार बनाने में सलग्न रहेंगे। ऐसे में आप कुछ रूके हुए अर्थ लाभ को पुनः पनपाने मे छोटे आडिइया को आजमा सकते हैं। जो कि आपके अर्थ लाभ को कमाल का बनाने वाला रहेगा। हालांकि ग्रहीय गोचरीय क्रम में श्री सूर्य संबंधित सेवाओं में बेहतर रहेंगे। वहीं पूंजी निवेश व विदेश में लाभांश बढ़ा हुआ रहेगा। किन्तु व्यय का स्तर इस माह सामान्य से ज्यादा होने के आसार रहेंगे। अतः अपने सूझबूझ को कायम रखें। यदि आप भाषाई ज्ञान के द्वारा धन अर्जित कर रहें हैं, तो इस माह शानदार मौके रहेंगे। यानी देशी व विदेशी कंपनी में धन कमाने के मौके रहेंगे। यानी कुल मिलाकर ग्रहीय गोचर अर्थ मामलों में सुखद व अच्छा रहेगा। किन्तु व्यय के स्तर को भी बढ़ाने वाला रहेगा।

शिक्षा एवं ज्ञानः सितम्बर 2021 में मकर राशि के जातक एवं जातिकायें कला व ज्ञान को शिखर तक पहुंचाने में सतत् अब्वल रहेंगे। क्योंकि ज्ञान व कला की क्षमता को बढ़ाने वाले श्री शुक्र का गोचर कहीं न कहीं शुभ व सकारात्मक रहेगा। हालांकि पूर्व के प्रयास व आड़िया को यह गोचर साधने में सहायक रहेगा। बहुत सम्भव हैं, किसी संस्थान में परीक्षण व प्रयोगों को सिद्ध करने के लिए दूरस्थ स्थानों की यात्रा में जाना पड़े। हालांाकि तथ्यों व अनुभवों से सीखने की जरूरत रहेगी। जिससे अपने अमूल्य वक्त को जाया होने से बचाते रहेंगे। क्योंकि श्री सूर्य व भौम का गोचर इस माह की शुरूआत में ही संबंधित ज्ञान विज्ञान के क्षेत्रों में कठिन चुनौतियों को पेश कर सकता है। किन्तु श्री शुक्र की स्थिति यदि आपके जन्मांक में सही हैं, तो इन छोटी-छोटी बाधाओं को पार करते हुये निश्चित तौर पर सफल रहेंगे। अतः प्रयासों को पूरे मन से जारी रखने में कोताही न करें।

स्वास्थ्यः सितम्बर 2021 मे मकर राशि के जातक व जातिकाओं को कई बार मन परेशान करता हुआ रहेगा। यदि पहुंचे हुये वैज्ञानिक व अनुसंधान कर्ता हैं, तो तथ्यों को परखने व जांचने में मन लगा हुआ रहेगा। किन्तु भौम का गोचर जिज्ञासा की दुनियां में लगातार घुमाने वाला रहेगा। जिससे किसी निर्णय में पहुंचने में समय लग सकता है। हालांकि यदि सामान्य स्तर के काम-काजी हैं, तो यह गोचर संबंधित क्षेत्रों में शरीर में पीड़ा व भय को खड़ा कर सकता है। अतः इस माह के पहले व दूसरे सप्ताहों में विशेष सावधानी रखने की जरूरत  रहेगी। ऐसे में बहुत तले भुने व चटपटे पदार्थों के सेवन से बचने की जरूरत महशूस होती रहेगी। हालांकि इस माह के तीसरे सप्ताह से सेहत संवरने लगेगी। जिससे शरीर में बल का एहसास रहेगा। वहीं कामों को तय वक्त में पूरा करने में सक्षम रहेंगे। यानी स्वतः की सेहत के साथ परिजनों के स्वास्थ्य का भी कुछ ख्याल रखने की जरूरत रहेगी।

उपयोगी उपायः श्रीराम रक्षा स्रोत्र का पाठ करें। या फिर करवायें।