हिन्दी

वृषभ राशि मासिक राशिफल (Vrishabh Rashi Masik Rashifal)

वृषभ राशि मासिक राशिफल (Vrishabh Rashi Masik Rashifal)

वृषभ मासिक राशिफल अक्टूबर 2021

माह अक्टूबर 2021 की गृह स्थितियों अनुसार मासिक फल निम्न प्रकार है:

सूर्य इस मास 17 अक्टूबर से रोग भावगत गोचर करेंगे। श्री मंगल 22 अक्टूबर से रोग भावगत गोचर करेंगे। श्री बुध 02 अक्टूबर से वक्री गति से सुत भावगत गोचर करेंगे। श्री वृहस्पति 18 अक्टूबर से मार्गी गति से भाग्यभाव गत गोचर करेंगे। श्री शुक्र 02 अक्टूबर से दारा भाव गत तथा 30 अक्टूबर से अष्टम भावगत गोचर करेंगे। तथा श्री शनि पूर्ववत् भाग्य भाव में गोचर करेंगे। राहू का गोचर पूर्ववत् लग्न भावगत एवं केतू का गोचर पूर्ववत् दारा भाव में रहेगा।

कैरियर एवं व्यवसायः सन् 2021 अक्टूबर माह में वृष राशि के जातक एवं जातिकाओं को संबंधित सेवा क्षेत्रों चाहे वह निजी हो या फिर सरकारी उनमें मान-सम्मान व प्रगति अर्जित करने के लिए पूरी योग्यता से काम करने की जरूरत रहेगी। यदि आप किसी व्यवसाय को अपनाने व उसमें कैरियर को शानदार बनाने के लिए सोच रहें हैं, तो निश्चित ही सफलता बनी रहेगी। हालांकि इस माह के पहले दो सप्ताहों तक श्री सूर्य का गोचर कुछ चुनौती भरा रहेगा। यदि आप नवयुवक हैं तथा पढ़ाई के साथ रोजगार परक पाठ्यक्रमों को चुनना चाह रहें हैं, तो अपनी रूचि तथा क्षमताओं का ध्यान रखकर उन्हें चुनें। क्योंकि सही कैरियर की दिशा चुनने में चुनौती रहेगी। हालंाकि यह स्थिति इस माह के तीसरे सप्ताह से बिल्कुल स्पष्ट हो पायेगी। और अपने रूचि के अनुसार विषयों को चुनने में सफल रहेगे। उनकी तैयारी या साक्षात्कार हेतु प्रवास में जाना पड़ेगा। यानी इस माह के तीसरे सप्ताह से श्री सूर्य एवं चौथे सप्ताह से श्री भौम का गोचर अनुकूलता से युक्त रहेगा।

प्रेम एवं संबंधः माह अक्टूबर 2021 में वृष राशि के जातक एवं जातिकायें स्वजन संबंधियों को लेकर उत्साहित होते रहेंगे। यदि आप घर के जिम्मेदार सदस्य हैं, तो बच्चों को पढ़ाने व आगे बढ़ाने में दिलचस्प बनी रहेगी। हालांकि कई मौको पर ऐसा लग सकता हैं, कि जिस स्तर पर उन्हें सक्रिय होना चाहिये वह उस स्तर से पीछे हैं। यदि आप किसी विपरीत लिंग के प्रति आकर्षित हो रहे हैं, तो यह गोचर उतना सकारात्मक नहीं रहेगा। अतः सूझबूझ के साथ चलने की जरूरत रहेगी। क्योंकि इस माह कई कामों को पूरा करने हेतु कहीं यात्रा व प्रवास हेतु जाना रहेगा। हालांकि इस माह के तीसरे सप्ताह से श्री सूर्य का गोचर प्रेम व संबंधों में अच्छे परिणामों को देने वाला रहेगा। किन्तु यह आप पर निर्भर करता हैं, कि आप उनके कितने करीब हैं, जो रिश्तों में मधुर संवादों को देने वाला रहेगा। वहीं श्री शुक्र का गोचर वैवाहिक जीवन में भी सद्भावना की कमी देता हुआ रहेगा।

वित्तीय स्थितिः अक्टूबर 2021 वृष राशि के जातक एवं जातिकायें रहन-सहन के स्तर को सुदृढ़ तथा सुखद बनाने में लगे हुये रहेंगे। क्योंकि इस माह आपको कहीं न कहीं से अच्छे धन लाभ की स्थिति रहेगी। चाहे व निजी क्षेत्र हो या फिर सरकारी लाभांश बढ़ा हुआ रहेगा। वहीं अर्थ मामलों को सुदृढ़ करने तथा संबंधित योजनाओं से लाभ कमाने हेतु कुछ प्रभावशाली लोगों से सम्पर्क बनाने के अवसर रहेंगे। हालांकि इस माह के पहले दो सप्ताहों तक श्री सूर्य आदि के गोचर के कारण धन मामलों में व्यय बढ़ा हुआ रहेगा। किन्तु माह के तीसरे सप्ताह से आपके लाभ का स्तर उच्च रहेगा। जिससे तय वक्त में कामों को पूरा करने में सक्षम रहेंगे। यदि आप कहीं निवेश करने के इच्छुक हैं, तो कोई मन पसन्द स्थान आपको प्राप्त रहेगा। यानी आप उभरते हुये व्यापारी के रूप अपना नाम इस माह दर्ज करा सकते है। हालांकि ग्रहीय गणित के अनुसार छोटी-छोटी परेशानियों से इंकार नहीं किया जा सकता है।

शिक्षा एवं ज्ञानः अक्टूबर 2021 में वृष राशि के जातक एवं जातिकायें स्कूली पाठ्यक्रमों को समझने तथा अच्छी तैयारी की तरफ रहेंगे। बहुत सम्भव है कि संबंधित सूचना, संवाद, कला, फिल्म, चिकित्सा में इस माह कोई सम्मान रहेगा। यदि आप नायक व नायिका हैं और अभिनय की कला को सीखने के मूड़ में हैं, तो यह गोचर वांछित परिणामों को देने वाला रहेगा। वहीं रक्षा, सुरक्षा व प्रबंधन के ज्ञान को उच्च करने के लिहाज से भी यह गोचर सकारात्मक बना हुआ रहेगा। किन्तु श्री बुध व शुक्र का गोचर उतने अच्छे परिणामों को देने वाला नहीं रहेगा। अतः अपने स्तर पर बौद्धिकता का प्रयोग करते हुये यदि आगे बढ़ेंगे। तो निश्चित तौर पर इस माह प्राथमिक व संबंधित उच्च शिक्षा में अब्वल दर्जे की सफलता रहेगी। किन्तु प्रायोगिक ज्ञान को उच्च बनाने के लिए और सक्रिय होने की जरूरत रहेगी। यानी ज्ञान को बढ़ाने में पूरे आत्मविश्वास से लगे रहें तो जरूर इस माह सफल रहेगे।

स्वास्थ्यः अक्टूबर 2021 में वृष राशि के जातक एवं जातिकाओं को सेहत के प्रति लापरवाही से बचने की जरूरत रहेगी। क्योंकि राशि स्वामी श्री शुक्र का गोचर इस माह सेहत के लिहाज से बहुत सकारात्मक परिणामों को देने वाला नहीं रहेगा। जिससे सिर दर्द व उदारादि आन्तरिक पीड़ाओं की स्थिति रहेगी। हालांकि शरीर को कसौटी पर खरा उतारने के लिए सक्रिय होने की जरूरत रहेगी। वैसे सेहत के लिए जहॉ संतुलित आहारों की तरफ बढ़ने की जरूरत रहेगी। वहीं मन से तनाव व असंतोष को दूर करते हुए मन में उत्पन्न भार को हल्का करने की जरूरत रहेगी। वैसे इस समाह के तीसरे सप्ताह से श्री सूर्य का गोचर आपके सेहत को  अच्छा करने वाला रहेगा। हालांाकि ग्रहीय गोचर रोग व पीड़ाओं को दूर करने में सहायक रहेगा। तथा अपने कामों को पूरा करने में सक्षम रहेंगे। यानी इस माह कह सकते हैं, कि सेहत में कुछ नरमी तो रहेगी। किन्तु ग्रहीय गोचर उसे दूर करने में सहायक रहेगे।

उपयोगी उपायः सूर्य मंत्रः ऊॅ ह्रां ह्रीं ह्रौं सः सूर्याय नमः का जाप करें।