हिन्दी

वृषभ राशि मासिक राशिफल (Vrishabh Rashi Masik Rashifal)

वृषभ राशि मासिक राशिफल (Vrishabh Rashi Masik Rashifal)

वृषभ मासिक राशिफल जुलाई 2021

माह जुलाई 2021 की गृह स्थितियों अनुसार मासिक फल निम्न प्रकार है:

सूर्य इस मास 16 जुलाई से पराक्रम भावगत गोचर करेंगे। श्री मंगल 20 जुलाई से सुख भावगत गोचर करेंगे। श्री बुध 07 जुलाई से धनभावगत तथा 25 जुलाई से पराक्रम भावगत गोचर करेंगे। श्री वृहस्पति पूर्ववत कर्म भावगत गोचर करेंगे। श्री शुक्र 17 जुलाई से सुख भाव गत गोचर करेंगे। तथा श्री शनि पूर्ववत भाग्य भाव में गोचर करेंगे। राहू का गोचर पूर्ववत लग्न भावगत एवं केतू का गोचर पूर्ववत दारा राशि में रहेगा।

कैरियर एवं व्यवसायः सन् 2021 जुलाई माह में वृष राशि के जातक एवं जातिकाओं को  व्यापार व वाणिज्य को साधने के लिए संबंधित आंकड़ों को दुरूस्त करने की चुनौती रहेगी। यानी प्रबंधन व तकनीक के क्षेत्रों में निरन्तर बढ़त दर्ज करने की चुनौती रहेगी। क्योंकि श्री सूर्य का गोचर कहीं न कहीं संबंधित पूंजी निवेश व विदेश के कामों में कुछ दौड़ाने वाला रहेगा। हालांकि आपको यह जान लेना चाहिए कि जिस वस्तु का विक्रय कर रहें है। या ऐसे क्षेत्रों में कैरियर संवारने की तमन्ना है।, तो माॅंग आदि की स्थिति को निश्चित तौर पर समझने की आवश्यकता रहेगी। वहीं श्री बुध का गोचर इस माह के दूसरे सप्ताह से धन दिलाने वाला रहेगा। किन्तु तीसरे सप्ताह से कुछ न कुछ मुश्किलों का सामना रहेगा। अतः सावधानी पूर्वक कार्य व कैरियर के उत्तर दायित्यों को समझने की जरूरत रहेगी। वहीं राशि स्वामी श्री शुक्र का गोचर कहीं न कहीं आपको सुख व संतोष को विकसित करने वाला रहेगा।

प्रेम एवं संबंधः माह जुलाई 2021 में वृष राशि के जातक एवं जातिकायें स्वजनों के मध्य कार्य व व्यापार को विस्तार देने में रहेगे। हालांकि आपको घर व परिवार के लोगों का पग-पग में सहयोग मिलता हुआ रहेगा। वहीं प्रेम संबंधों में रूक-रूक कर संवादों का क्रम जारी रहेगा। क्योंकि श्री सूर्य का गोचर इस माह के पहले व दूसरे सप्ताहों तक आपको कहीं न कहीं परेशानी को देने वाला रहेगा। किन्तु इसके बाद पुनः संबंधों को सजाने व संवारने में अनुकूल रहेगा। जिससे परस्पर सहयोग की भावना बनी हुई रहेगी। परिणामतः घर में किसी रूके हुये कामों के पूरा करने में सक्षम रहेंगे। अतः प्रयासों को जारी रखनें में कोताही न करें, तो अच्छा रहेगा। कुल मिलाकर इस माह का गोचर आपको संबंधों में मिश्रित परिणामों को देने वाला रहेगा। चाहे वह राजनैतिक जीवन के संबंध हो या फिर कार्मिक जीवन के संबंध हो उन्हें सुचारू रखने की चुनौती रहेगी। अतः प्रयासों को जारी रखने में कोताही न करे।

वित्तीय स्थितिः जुलाई 2021 वृष राशि के जातक एवं जातिकाओं को वित्तीय उद्देश्यों को पूरा करने में सहायक रहेगा। यदि आप सामान्य जीवन में काम-काजी हैं, तो निश्चित तौर पर बढ़त की स्थिति रहेगी। किन्तु उद्योग धंधों को चलाने के लिए संबंधित क्षेत्रों में अधिक वित्तीय व्यय होने के आसार रहेंगे। अतः कामों को पूरे ध्यान से करने की जरूरत रहेगी। हालांकि इस माह के तीसरे सप्ताह से श्री सूर्य का गोचर आंकड़ों की समीक्षा करने और व्यापार को बढ़ाने मे ंसहायक रहेगा। परिणामतः उत्पादन व विक्रय की समुचित नीति को निर्धारित करने में सक्षम होते रहेंगे। अतः प्रयासों को जारी रखने में कोताही न करें, तो अच्छा रहेगा। यानी इस माह संबंधित विक्रय व व्यापार में कुछ रूकावटों के बाद कामों को आगे बढ़ाने वाला रहेगा। यानी प्रयासों को साधने के लिए संसाधनों को जुटानें में पसीना बहाना पड़ेगा। इस माह ग्रहीय गोचर मिश्रित परिणामों को देने वाला रहेगा।

शिक्षा एवं ज्ञानः जुलाई 2021 में वृष राशि के जातक एवं जातिकायें संबंधित क्षेत्रों में ज्ञान को संवारने तथा प्रतियोगी क्षेत्रों में बढ़त दर्ज करने मे सक्षम रहेंगे। क्योंकि श्री सूर्य का ग्रहीय गोचर कहीं न कहीं आपके लिए शुभप्रद बना हुआ रहेगा। वहीं राशि स्वामी शुक्र का गोचर अभिनय फिल्म कला, संगीत तथा आध्यात्म की दुनियां में अनुकूलता को देने वाला रहेगा। यदि आप राजनेता या फिर उद्योगपति हैं, तो निश्चित तौर पर बढ़त रहेगी। हालांकि छोटी-छोटी जिम्मेदारियां बढ़ी हुई रहेगी। जिन्हे आप परेशानी का विषय मान कर अपनी क्षमता के अनुसार विषयों को दोहराने व तैयार करने को लेकर परेशान रहेंगे। क्योंकि श्री सूर्य का गोचर इस माह के प्रथम व द्वितीय सप्ताह तक संबंधित ज्ञान व अध्ययन के क्षेत्रों में भय को उत्पन्न करने वाला रहेगा। यदि आप किसी शिक्षण संस्थान से जुड़े हैं, तो अपने सहयोगी संस्था के मध्य बैठक करने और बिगड़ रहें शैक्षिक वातावरण को सुधारने के जरूरी नियमों को अमल में लेते हुए रहेंगे।

स्वास्थ्यः जुलाई 2021 में वृष राशि के जातक एवं जातिकाओं को सेहत को चुस्त व दुरूस्त रखने की दिशा में पूरी मुस्तैदी दिखाने की जरूरत बनी हुई रहेगी। हालांकि राशि स्वामी श्री शुक्र का गोचर कहीं न कहीं अनुकूलता को देने वाला रहेगा। ऐसे में संबंधित कार्य व व्यापार को पूरा करने में समर्थ होते रहेंगे। हालांकि लग्नगत पाप ग्रहीय संबंध तथा श्री सूर्य का गोचर कहीं न कहीं रक्त विकारों को देने वाला रहेगा। अतः सूझबूझ का क्रम बनाये रखें। तो अधिक अच्छा रहेगा। कहने का अभिप्राय है कि इस माह के पहले व दूसरे सप्ताहों मे सेहत में उतार-चढ़ाव का क्रम बना हुआ रहेगा। किन्तु इसके बाद श्री सूर्य आपके लिए शुभप्रद रहेंगे। जिससे सेहत जनित विकारों को दूर करने के साथ शरीर की रोग क्षमताओं को उन्न्त करने में सक्षम रहेंगे। हालांकि राशि स्वामी की गोचरीय स्थिति शुभप्रद बनी हुई रहेगी। परिणामतः आ रही परेशानियों को दूर करने तथा सेहत में क्षमताओं को कायम रखने में सहायक रहेगा।

उपयोगी उपायः सूर्य मंत्रः ऊॅ ह्रां ह्रीं ह्रौं सः सूर्याय नमः का जाप करें।