हिन्दी

वृषभ राशि मासिक राशिफल

वृषभ राशि मासिक राशिफल

वृषभ मासिक राशिफल अगस्त  2019

माह अगस्त 2019 की गृह स्थितियों अनुसार मासिक फल निम्न प्रकार है:

कैरियर और व्यापारः इस अगस्त महीने के प्रथम भाग से ही आप अपने कैरियर को अच्छा बनाने के कई अनुकूल अवसरों से युक्त रहेगे। जिनके भली-भांति प्रयोग में आप लगे हुए रहेंगे। किन्तु इस माह के दूसरे भाग में आप आलस्य व नकारात्मक विचारों के कारण आएं हुए अवसरों के सही प्रयोग में चूक जाएंगे। सावधानी की जरूरत रहेगी। हालांकि इस माह के तीसरे भाग में कैरियर के क्षेत्रों में सफल रहेंगे।

प्रेम एवं सम्बंधः इस अगस्त महीने के पहले भाग में आपको लगेगा कि साथी के साथ आपका विश्वास कमजोर हो चला हैं, अतः परस्पर संबंधों में विश्वास को बनाने की चुनौती रहेगी। इस माह के दूसरे व तीसरे भाग में आपके पास कई अनुकूल अवसर रहेंगे। जिससे आप उन्हें रिझाते हुए संबंधों की प्रगाढ़ता को इस माह के तीसरे भाग में अर्जित करेंगे। हालांकि अंतिम भाग में पुनः आपको निजी संबंधों में तनाव रहेंगे।

वित्तीय स्थितिः आप अगस्त महीने के प्रथम भाग में अपनी आय को और अच्छा बनाने के लिए सोचेंगे। किन्तु मध्यम दर्जे की सफलता रहेगी। जिससे आपको कुछ असंतोष रहेगा। हालांकि इस माह के दूसरे व तीसरे भाग से आपको संबंधित आय के स्रोतों से अच्छा लाभ रहेगा। जिससे प्रसन्न रहेंगे। जिससे आप कुछ जरूरी उपकरणों की खरीद को अंतिम रूप देने में सक्षम रहेंगे। इस माह के अंत मे व्यय अधिक रहेगा।

शिक्षा एवं ज्ञानः अगस्त के महीने में आप अपने शैक्षिक व तकनीक ज्ञान को और अच्छा बनाने में लगे हुए रहेंगे। किन्तु इन प्रयासों से आप ज्यादा संतुष्ट नहीं रहेंगे। आपको लगेगा कि अभी और संघर्ष करने की जरूरत रहेगी। हालांकि आपको इस माह के दूसरे व तीसरे भाग में कई स्तर की अच्छी सफलता रहेगी। जिससे आप कुछ और प्रसन्न रहेंगे। इस माह के अंतिम भाग में आपको कुछ और कठिन चुनौतियां रहेगी।

स्वास्थ्यः इस अगस्त महीने के पहले भाग से ही आप स्वास्थ्य को सुखद रखने के लिए पहले से ही अधिक तत्पर रहेंगे। जिससे कि स्वास्थ्य बिड़ने न पाएं। हालांकि आपके यह प्रयास ना काफी साबित रहेगे। जिससे आपको कुछ इलाज लेने की जरूरत रहेगी। हालांकि इस माह के दूसरे व अंतिम भाग में आप अधिक अच्छे सेहत से युक्त रहेंगे। जिससे आप अपने कामों को और तेजी से करने में लगे रहेंगे।

उपयोगी उपायः वृष राशि के जातकों को निम्नांकित उपाय करने चाहिए जो निश्चित ही फलदायक रहेंगेः

1.         श्री शिव चालीसा का पाठ करें।