हिन्दी

कन्या राशि मासिक राशिफल (Kanya Rashi Masik Rashifal)

कन्या राशि मासिक राशिफल (Kanya Rashi Masik Rashifal)

कन्या मासिक राशिफल मार्च 2021

माह मार्च 2021 की गृह स्थितियों अनुसार मासिक फल निम्न प्रकार है:

सूर्य इस मास 14 मार्च से दारा भावगत में गोचर करेंगे। श्री मंगल पूर्ववत भाग्य भावगत गोचर करेंगे। श्री बुध 11 मार्च से रोग भाव गत गोचर करेंगे। श्री वृहस्पति पूर्ववत सुत भावगत गोचर करेंगे। श्री शुक्र 17 मार्च से दारा भावगत गोचर करेंगे। तथा श्री शनि पूर्ववत पंचम भाव में गोचर करेंगे। राहू का गोचर पूर्ववत भाग्य भाव में एवं केतु का गोचर पराक्रम भाव में रहेगा।

कैरियर एवं व्यवसायः मार्च 2021 कन्या राशि के जातक एवं जातिकायें कार्य व व्यापार के क्षेत्रों में दबदबा बनाने व यश कमाने में लगे हुये रहेंगे। यदि आप संबंधित क्षेत्रों के अधिकारी व कर्मचारी या फिर निरीक्षक हैं, तो पदोन्नति पाने और कामों को संभालने की दक्षता को बढ़ाने में लगे हुये रहेंगे। वहीं सामान्य काम-काजी जीवन में अच्छी बढ़त के अवसर बने हुये रहेंगे। किन्तु कारोबार को व्यापक बनाने के संदर्भ में कुछ और परिश्रम की जरूरत बनी हुई रहेगी। क्योंकि कार्य व व्यापार के स्वामी श्री बुध बहुत सकारात्मक नहीं रहेंगे। किन्तु श्री सूर्य का गोचर इस माह के दो सप्ताहों के लिये सकारात्मक बना हुआ रहेगा। परिणामतः कार्य व व्यापार में जान फूंकने की प्रक्रिया बढ़ी हुई रहेगी। यानी इस माह कुछ परेशानियों के बाद कार्य सधेंगे।

प्रेम एवं संबंधः कन्या राशि वाले मार्च 2021 में स्वजनों के स्नेह से बंधे हुये रहेंगे। उन्हें सहयोग देने में प्रसन्नता का अनुभव करते हुये रहेंगे। यदि आप उम्रदराज हैं, तो संतान पक्ष के प्रति मोह ममता उत्पन्न होती रहेगी। वहीं किसी धर्म लाभ के काम को पूरा करने की मंशा भी इस माह जोर पकड़ती हुई रहेगी। यदि किसी देवता के दर्शन के लिये जाना चाह रहें हैं, तो इस माह सफल रहेगे। इस माह भाई व बहनों के मध्य अच्छे तालमेल से खुश होते रहेंगे। किन्तु निजी संबंधों में नजदीकियों को बढ़ाने तथा संबंधों के आधार को और मजबूती देने के लिये परेशान रहेंगे। कुछ बातों में साथी अचानक ही विवादों को खड़ा कर सकता है। अतः सूझबूझ के क्रम को कमजोर न करें, अन्यथा हानि हो सकती है। क्योंकि ग्रहीय गोचर कहीं न कहीं अशुभ परिणामों को देने वाला रहेगा।

वित्तीय स्थितिः मार्च 2021 में कन्या राशि के जातक एवं जातिकायें आर्थिक पहलुओं को सुधारने और कामों को संवारने में लगातार लगे हुये रहेंगे। क्योंकि ग्रहीय गोचरीय इस माह आपको धन कमाने व जुटाने की प्रक्रिया में भाग-दौड़ को देने वाला रहेगा। अतः प्रयासों को पूरी मुस्तैदी से जारी रखने में फायदा रहेगा। वैसे आय भाव मे शुभाशुभ ग्रहीय प्रभाव होने से इस माह संबंधित क्षेत्रों में मिश्रत परिणामों की स्थिति बनी हुई रहेगी। किन्तु श्री सूर्य का गोचर इस माह के दो सप्ताहों तक धन कमाने में संबधित बाजार में प्रतिद्वन्दी को पीछे छोड़ने और कामों को पूरा करने की क्षमता को देने वाला रहेगा। परिणामतः धन लाभ होने के पुख्ता अवसर बने हुये रहेंगे। अतः प्रयासों को पूरी मुस्तैदी से करें, तो अच्छा रहेगा। किन्तु 14 मार्च से श्री सूर्य का गोचर संबंधित कार्य व व्यापार में व्यय की स्थिति को बढ़ाने वाला रहेगा।

शिक्षा एवं ज्ञानः मार्च 2021 में कन्या राशि के जातक एवं जातिकायें कारोबारी हुनर बढ़ाने और संबंधित निजी व सरकारी क्षेत्रों में सेवाओं को देने का कौशल सीखने और कामों को साधने में लगे हुये रहेंगे। वैसे गुरू का गोचर संबंधित पाठ्यक्रमों को पूरा करने और कामों को साधने में अत्यंत सहायक बना हुआ रहेगा। जिससे आप गौरवान्वित होते रहेंगे। वहीं श्री सूर्य का गोचर भी इस माह के दो सप्ताहों तक उन्नति व सुख दायक बना हुआ रहेगा। वहीं निकट प्रतिद्वन्दी को पीछे छोड़ने और विषयों में विशेषज्ञता को हासिल करने में सफल होते रहेंगे। यद्यपि शनि का गोचर कहीं न कहीं मतिभ्रम व आलस्य को देता रहेगा। ऐसे में आपको शिक्षण व प्रशिक्षण के क्षेत्रों में तेजी से बढ़ने की जरूरत बनी हुई रहेगी। वहीं 14 मार्च से श्री सूर्य का गोचर भी ज्ञान व शिक्षण के मामलों में ज्यादा अनुकूल नहीं रहेगा।

स्वास्थ्यः मार्च 2021 के महीने मे कन्या राशि क़े जातक एवं जातिकाओं को शरीर की रौनकता को बढ़ाने और उसे पुष्ट करने की दिशा मे निरन्तर आगे बढ़ने की जरूरत बनी हुई रहेगी। क्योंकि राशि स्वामी श्री बुध का गोचर इस माह बहुत अच्छी स्थिति में नहीं रहेगा। ऐसे में शरीर में रक्तचाप व पीड़ाओं की स्थिति उभरती हुई रहेगी। वहीं इस माह श्री सूर्य का गोचर सेहत को सुखद रखने में माह के दो सप्ताह तक अच्छा रहेगा। इसके उपरान्त रोग व पीड़ाओं को देने वाला रहेगा। अतः अपने सूझबूझ के क्रम को कमजोर न करें और संतुलित दिनचर्या के क्रम को बनायें रखने में पूरी मुस्तैदी से लगे हुये रहेंगे। तो अच्छा रहेगा। यानी इस माह स्वास्थ्य संबंधों में मिलेजुले परिणामों की स्थिति रहेगी।

उपयोगी उपायः श्री गणेश चालीसा का पाठ करें।