हिन्दी

मीन राशि मासिक राशिफल (Meen Rashi Masik Rashifal)

मीन राशि मासिक राशिफल (Meen Rashi Masik Rashifal)

मीन मासिक राशिफल अक्टूबर 2021

माह अक्टूबर 2021 की गृह स्थितियों अनुसार मासिक फल निम्न प्रकार है:

सूर्य इस मास 17 अक्टूबर से अष्टम भावगत गोचर करेंगे। श्री मंगल 22 अक्टूबर से अष्टम भाव गत गोचर करेंगे। श्री बुध 02 अक्टूबर से वक्री गति से दारा भावगत गोचर करेंगे। श्री वृहस्पति 18 अक्टूबर से मार्गी गति से आय भावगत गत गोचर करेंगे। तथा श्री शुक्र 02 अक्टूबर से भाग्य भावगत तथा 30 अक्टूबर से कर्म भावगत गोचर करेंगे। तथा श्री शनि आय भाव में गोचर करेंगे। राहू का गोचर पराक्रम भाव में एवं केतू का गोचर भाग्य भाव में रहेगा।

कैरियर एवं व्यवसायः अक्टूबर 2021 मीन राशि के जातक एवं जातिकायें इस माह संबंधित क्षेत्रों में कैरियर व व्यवसाय को शानदार बनाने व कामों को तय वक्त में पूरा करने में लगे हुये रहेंगे। हालांकि इस माह के पहले दो सप्ताहों तक संबंधित अधिकारियों के मध्य संबंधित अंशकालिक सेवाओं के पुनः नवीनी करण तथा उनकी अवधि बढ़ावाने में लगे हुये रहेंगे। इस दिशा में कई बार भाग-दौड़ रहेगी। जिससे परेशान रहेंगे। यदि आप पहली दफा कैरियर को चुनने जा रहे हैं, तो इस माह सावधानी रखने की जरूरत रहेगी। यानी ऐसे क्षेत्रों का चुनाव करें, जो आपकी योग्यता व क्षमता के साथ रूचिकर लगते हो, अन्यथा ग्रहीय गोचर के कारण परेशानी उत्पन्न हो सकती है और समय और धन बर्बाद रहेगा। यदि आप पूंजीगत निवेश को आकर्षित करने के मूड़ में हैं, तो यह गोचर अनुकूलता से युक्त रहेगा। वहीं श्री शुक्र का गोचर इस माह अच्छे परिणामों को देता रहेगा।

प्रेम एवं संबंधः मीन राशि अक्टूबर 2021 में इस राशि के जातक एवं जातिकायें घर व परिवार में अच्छे माहौल को बनाने में सक्षम रहेंगे। वहीं वैवाहिक जीवन के आंगन में हंसी खुशी के पल रहेंगे। यदि आप नवयौवना हैं, तो दाम्पत्य सूत्रों से जुड़ने के योग रहेंगे। वहीं स्वजनों के मध्य अच्छे तालमेल से प्रसन्नता रहेगी। हालांाकि इस माह के तीसरे सप्ताह से श्री सूर्य का गोचर संबंधों के लिहाज से बहुत अनुकूल नहीं रहेगा। जिससे स्वजनों के मध्य छोटी-छोटी बातों में तनाव रहेंगे। प्रेम संबंधों में साथी के मध्य कुछ बातों में लगातार तनाव की स्थिति  रहेगी। क्योंकि श्री सूर्य इस माह के तीसरे सप्ताह से प्रतिकूल परिणामों को देने वाले रहेंगे। जिससे परेशानी बढ़ी हुई रहेगी। किन्तु शुक्र का गोचर कहीं न कहीं संबंधों के लिहाज सकारात्मक रहेगा। यानी इस माह प्रेम संबंधों के लिहाज से मिश्रित परिणामों की स्थिति रहेगी।

वित्तीय स्थितिः अक्टूबर 2021 में मीन राशि के जातक एवं जातिकायें वित्तीय इकाइयों को मजबूती देने तथा तय वक्त में कामों को पूरा करने में लगे हुये रहेंगे। क्योंकि इस दिशा में कुशल दिशा निर्देश देकर संबंधित संस्थाओं को मजबूती देने में लगे हुये रहेंगे। यदि पूंजीगत निवेश करने के इच्छुक हैं, या फिर घरेलू सहित बाहरी निवेश को आकर्षित करने के मूड़ में हैं, तो यह गोचर शुभ व सकारात्मक परिणामों को देने वाला रहेगा। यदि आप खनन व तेल तथा गैस के क्षेत्रों से संबधित हैं, या फिर ऐसे उत्पादों के क्रेता व विक्रेता हैं, तो यह गोचर शुभ व सकारात्मक रहेगा। जिससे वांछित लाभांश मिलता रहेगा। अतः प्रयासों का पूरे मन से जारी रखने में कोताही न करें। वहीं शुक्र का गोचर शुभता को देने वाला रहेगा। यानी इस माह व्यय बढ़ा हुआ रहेगा। किन्तु आमदनी भी रहेगी।

शिक्षा एवं ज्ञानः अक्टूबर 2021 में कुम्भ राशि के जातक एवं जातिकाओं को संबंधित विषयों को समझने व उन्हें याद करने में अच्छी प्रगति रहेगी। जिससे तन व मन प्रसन्न रहेगा। हालांकि ग्रहीय गोचर क्रम में कुछ न कुछ परेशानियों का दौर आ सकता है, अतः अपने सूझबूझ के क्रम को कमजोर न करें, तो अच्छा रहेगा। वैसे इस माह के पहले दो सप्ताहों तक श्री सूर्य शुभ व सकारात्मक बने हुये रहेंगे। बहुत सम्भव है, कि अध्ययन व अध्यापन के क्षेत्रों में दूरस्थ स्थानों की यात्रा व प्रवास में जाना पड़ेगा। यदि आप तकनीक, प्रबंधन, चिकित्सा आदि के गुणों को सीखने के लिए उत्साहित हैं, तो यह गोचर शुभ रहेगा। क्योंकि श्री शुक्र शुभ परिणामों को देने वाले रहेगे। जिससे संबंधित पाठन व पाठन के क्षेत्रों में लगातार कामयाबी मिलती रहेगी। कुल मिलाकर छोटी-छोटी बातों को छोड़ दें, तो यह गोचर शुभ व सकारात्मक बना हुआ रहेगा।

स्वास्थ्यः अक्टूबर 2021 मीन राशि के जातक व जतिकाओं को सेहत को सुखद व सुन्दर बनाने की दिशा में लगातार सहयोग मिलता रहेगा। यदि आप किसी रोग व पीड़ा से परेशान हैं, तो इस माह शुक्र बहुत हद तक परेशानियों को दूर करने वाला रहेगा। किन्तु श्री सूर्य का गोचर बहुत शुभ व सकारात्मक नहीं रहेगा। वहीं भौम का गोचर भी शरीर में गुप्तांगों की पीड़ाओं को देने वाला रहेगा। अतः तामसिक आहारों के सेवन से बचने की जरूरत बनी हुई रहेगी। वहीं दिनचर्या को साधने तथा संतुलित करने की दिशा में लगातार बढ़त बनाने की जरूरत बनी हुई रहेगी। यानी अपने खान-पान को साधने के साथ ही आपको उपयोगी व्यायामों की तरफ ध्यान देने की जरूरत बनी हुई रहेगी। कुल मिलाकर यह गोचर सेहत के लिहाज से मिलेजुले परिणामों को देने वाला रहेगा। अतः अपने स्तर पर किसी प्रकार की लापरवाही न करें।

उपयोगी उपायः श्री शनि चालीसा का पाठ करे।