हिन्दी

धनु राशि मासिक राशिफल

धनु राशि मासिक राशिफल

धनु मासिक राशिफल अप्रैल 2019

माह अप्रैल 2019 की गृह स्थितियों अनुसार मासिक फल निम्न प्रकार है:

कैरियर और व्यापारः इस अप्रैल के महीने में आप व्यापारिक वृद्धि हासिल करने के लिए पहले से अधिक सक्रिय रहेंगे। आप देखेंगे कि इस माह के पहले भाग से ही आपके कई प्रयास सफलता में बदल़ते जाएंगे। किन्तु इस माह के दूसरे भाग में आप अपनी हुई प्रगति की समीक्षा करने में व्यस्त रहेंगे। परिणामतः आपको इस माह के तीसरे व चौथे भाग में अधिक शुभ व सकारात्मक परिणाम प्राप्त रहेंगे। जिससे आप प्रसन्न रहेंगे।

प्रेम एवं सम्बंधः अप्रैल महीने में आप अपने संतान पक्ष की तरक्की से प्रसन्न रहेंगे। आप देखेंगे कि इस माह के पहले भाग से ही आप अपने निजी संबंधों को लेकर उत्साहित रहेंगे। आप साथी की बातों को भी मानने के लिए तैयार रहेंगे। जिससे सबंधों में मधुरता की स्थिति रहेगी। किन्तु दूसरे भाग में कुछ तनाव पूर्ण स्थिति रहेगी। जिसे आप इस माह के तीसरे भाग में सामान्य बनाने के लिए तत्पर रहेंगे।

वित्तीय स्थितिः इस अप्रैल के महीने में आप अपने वित्तीय स्थिति को और अच्छा बनाने के लिए लिए तत्पर रहेंगे। आप देखेंगे कि इस माह के पहले भाग से ही आपके धन लाभ के प्रयास सफलता की स्थिति में बदलते रहेंगे। किन्तु दूसरे भाग में आपके व्यय का स्तर कहीं अधिक रहेगा। इस माह के तीसरे भाग से आय अच्छी रहेगी।

शिक्षा एवं ज्ञानः अप्रैल के महीने मे आप अपने प्रतियोगी व क्रीड़ा के क्षेत्रों में बढ़त बनाने की स्थिति को और समृद्ध करेंगे। जिससे आपको इस माह कोई वांछित सफलता प्राप्त रहेगी। हलांकि इस माह के दूसरे भाग कुछ कठिन रहेंगे। जिसे आप कुछ चिंतित रहेंगे। इस माह के तीसरे भाग  पुनः आपको अच्छी स्थिति देने वाले रहेंगे। जिससे आप अपने तकनीक ज्ञान को उच्च करने में कामयाब रहेंगे।

स्वास्थ्यः माह अप्रैल के पहले भाग में आप अपने खान-पान के प्रति अधिक सतर्क रहेंगे। किन्तु कुछ बढ़ती हुई आपा-धापी से आपके सेहत में कुछ थकान की स्थिति बनी रहेगी। जिससे आपको किसी चिकित्सक से उपचार लेने की जरूरत रहेगी। इस माह के दूसरे व चौथे भाग अधिक अनूकूल रहेंगे। इस दरम्यान आप क्षमता के साथ अपने कामों को अंजाम देने में व्यस्त रहेंगे। जिससे आप अपने लक्ष्य के पास रहेंगे।

उपयोगी उपायः धनु राशि के जातकों को निम्नांकित उपाय करने चाहिए जो निश्चित ही फलदायक रहेगेः

1.         श्री राम चालीसा का पाठ करें।