हिन्दी

धनु राशि मासिक राशिफल (Dhanu Rashi Masik Rashifal)

धनु राशि मासिक राशिफल (Dhanu Rashi Masik Rashifal)

धनु मासिक राशिफल अगस्त 2021

माह अगस्त 2021 की गृह स्थितियों अनुसार मासिक फल निम्न प्रकार है:

सूर्य इस मास 16 अगस्त से भाग्य भावगत गोचर करेंगे। श्री मंगल पूर्ववत् से भाग्य भावगत गोचर में रहेंगे। श्री बुध 08 अगस्त से भाग्य भावगत गोचर तथा 26 अगस्त से कर्म भावगत गोचर करेंगे। श्री वृहस्पति पूर्ववत् पराक्रम भावगत गोचर करेंगे। तथा श्री शुक्र 11 अगस्त से कर्म भावगत गोचर करेंगे। तथा श्री शनि धन भाव में गोचर करेंगे। राहू का गोचर रोग भाव में एवं केतु का गोचर व्यय भाव में रहेगा।

कैरियर एवं व्यवसायः अगस्त 2021 धनु राशि के जातक एवं जातिकाओं को संबंधित खनन, कोयला, तेल, गैस व अन्य खनिजों से लाभ मिलता रहेगा। यदि आप किसी क्षेत्र में कमीशन व लाटरी आदि के कामों से जुड़े है, तो भी यह गोचर वांछित परिणामों को देने वाला रहेगा। किन्तु जोखिमों से इंकार नहीं किया जा सकेगा। अतः उचित सावधानी कायम रखें। यदि आप संबंधित निजी व सरकरी क्षेत्रों में सेवाओं को देने की मंशा से युक्त हैं, तो निश्चित तौर पर आपका लाभांश बना रहेगा। किन्तु संबंधित सेवाओं के सिलसिले में अयंत्र कहीं स्थान परिवर्तन के योग रहेंगे। कहने का अभिप्राय कि इस माह का गोचर हालांकि कुछ परेशानियों को देने वाला रहेगा। किन्तु कैरियर के क्षेत्रों में लगातर लाभ भी मिलता रहेगा। क्योंकि श्री सूर्य का गोचर इस माह के पहले दो सप्ताहों तक कठिन परिश्रम को देने  वाला रहेगा। किन्तु इसके पश्चात् आपकी सोच से कहीं ज्यादा अच्छे परिणामों को देने वाला रहेगा।

प्रेम एवं संबंधः धनु राशि अगस्त 2021 में धनु राशि के जातक व जातिकाओं को स्वजन व संबंधियों के मध्य अच्छे लगाव के अवसर रहेंगे। बहुत सम्भव है यह गोचर आपको किसी करीबी रिश्तेदार के यहॉ जाने के अवसरों को देने वाला रहेगा। इस माह के पहले दो सप्ताहों तक श्री सूर्य का गोचर हालांकि रिश्तों में तनाव को बढ़ाने वाला रहेगा। ऐसे में आपको किसी से द्वेष भावना से बचते हुये चलना चाहिये। यदि कोई आपसे नाराज हो जाता है, तो तत्काल पलटवार करने से बचें। यानी ग्रहीय गोचर कुछ समस्याओं को देने वाला रहेगा। किन्तु इसके पश्चात् ग्रहीय गोचर संबंधों में विश्वसनीयता को देने वाला रहेगा। आप जिन्हें दिल से चाहते व चाहती हैं उन्हें इस माह के पहले सप्ताह से ही आपसे शिकायत बनी हुई रहेगी। किन्तु आपको बौद्धिकता व धैर्य के क्रम को नहीं तोड़ना चाहिये। क्योंकि इस माह के तीसरे सप्ताह के आते-आते सूर्यादि ग्रह शुभ परिणामों को देने वाले रहेंगे। जिससे संबंधों में पुनः मधुरता की बयार रहेगी।

वित्तीय स्थितिः अगस्त 2021 में धनु राशि के जातक एवं जातिकायें संबंधित क्षेत्रों में लाभ के स्तर को मजबूती देने में संलग्न रहेंगे। किन्तु इन प्रयासों में अधिक धन व्यय की स्थिति रहेगी। क्योंकि संबंधित भावों में ग्रहीय गोचर होने से लाभांश को बढ़ाने में शुरूआत से ही मशक्त रहेगी। हालांकि कुछ विरोधी आपके इन प्रयासों की निंदा कर सकते हैं, अतः संबंधित मामलों में अधिकारियों के साथ बैठक करने की स्थिति रहेगी। किन्तु इस माह के तीसरे सप्ताह से भौम व श्री सूर्य का गोचर आपकी आय को अच्छा करने वाला रहेगा। वहीं सुखद प्रवास की राह में अग्रसर करने वाला रहेगा। यानी इस माह का गोचर व्यय की अधिकता को देने वाला रहेगा। किन्तु कहीं न कहीं लाभांश को बढ़ाने वाला रहेगा। चाहे वह विक्रय व उत्पादन से जुडे़ क्षेत्र हो या फिर सूचना व संवादों के क्षेत्र हो यह माह आपकी आमदनी के लिए कमजोर होते हुये भी उसे आगामी समय में अच्छा करने वाला रहेगा।

शिक्षा एवं ज्ञानः अस्गत 2021 में धनु राशि के जातक एवं जातिकाओं को संबंधित विषयों को तैयार करने व उनमें पैठ बनाने के अवसर रहेंगे। किन्तु इस माह के पहले व दूसरे सप्ताह से ही अध्ययन व अध्यापन को साधने के लिए सुखद यात्रा व प्रवास में जाने की जरूरत बनी हुई रहेगी। चाहे व तकनीक के क्षेत्र हो या फिर लेखन व साहित्य आदि के विषय हो। यह गोचर कहीं न कहीं उपयोगी रहेगा। हालांकि ग्रहीय गोचर मन को सतत् भटकाने वाला रहेगा। किन्तु 17 अगस्त से संबंधित कार्मिक कौशल व हुनर को संवारने के अच्छे अवसर बने हुये रहेंगे। और पुनः विषयों में आपकी समझ बढ़ी हुई रहेगी। यदि आप किसी प्रतियोगी परीक्षा में शामिल होने जा रहे हैं तो सफल रहेंगे। क्योंकि इस माह शुक्र व भौम का गोचर हित साधक रहेगा। यानी छोटी-छोटी बातों को छोड़ दे तो यह गोचर कहीं न कहीं अनुकूलता से युक्त रहेगा। अतः विषयों को मन से पढ़े।

स्वास्थ्यः अगस्त 2021 के महीने मे धनु राशि के जातक एवं जातिकाओं को स्वास्थ्य को सुखद रखने के अवसर बने हुये रहेंगे। किन्तु यह बहुत हद तक आपके आचार व व्यवाहारों पर निर्भर रहेगा। क्योंकि ग्रहीय गोचर इस माह शरीर में रोग व कष्ट उभरने के संकेत कर रहा है। ऐसे में गुप्तांगों में पीड़ा व रोग हो सकते है। क्योंकि श्री सूर्य का गोचर आपके मनः स्थिति को कुछ कमजोर करता हुआ रहेगा। गोचरीय क्रम में भौम भी कुछ परेशानी को देने वाला रहेगा। अतः कार्य व व्यापर के प्रति सजगता बनाकर चलने की जरूरत रहेगी। यानी खान-पान व नियमित आहारों को अवरूद्ध न करें व उपयोगी व जरूरी उपचारों को लेने में कोताही से बचें। तो अच्छा रहेगा। हालांकि रोग व पीड़ा से भयभीत होने की जरूरत नहीं है। बल्कि रोग न उभरे ऐसी दिनचर्या की तरफ जाने की जरूरत रहेगी। हालांकि इस माह 17 अगस्त से पुनः ग्रहीय गोचर शुभ व अच्छे परिणामों को देने वाला रहेगा।

उपयोगी उपायः श्री गणपति चालीसा का पाठ करें।