धनु राशि मासिक राशिफल

धनु राशि मासिक राशिफल

धनु मासिक राशिफल अक्टूबर 2018

माह अक्टूबर 2018 की गृह स्थितियों अनुसार मासिक फल निम्न प्रकार है:

कैरियर और व्यापारः अक्टूबर माह में धनु राशि के जातक व जातिकाओं को रोजगार प्राप्त करने में महती प्रगति रहेगी। प्राप्त रोजगार के क्षेत्रों में अपनी क्षमताओं के बढ़िया प्रदर्शन से आगामी समय में अच्छे कैरियर की राह और आसान करेंगे। वैसे कुछ कठिन मामलों को इस माह के दूसरे व चौथे भाग में हल करने में कामयाबी रहेगी। इस मास के प्रथम व तृतीय भाग पुनः चुनौती भरे हो सकते हैं, संबंधित क्षेत्रों में सचेत रहे।

प्रेम एवं सम्बंधः अक्टूबर माह धनु राशि के जातक व जातिकाओं को पारिवारिक जीवन के लड़ाई झगड़ों को दूर करने तथा पारिवारिक एकजुटना को बढ़ाने की इच्छा रहेगी। अर्थात् पूर्व के मतभेदों को समाप्त करने की जोरदार पहल रहेगी। निजी संबंधों में इस मास के द्वितीय व चतुर्थ भाग अधिक सुखद परिणाम देने वाले रहेंगे। किन्तु प्रथम व तृतीय भाग में रिश्तों की मिठास में कमी झलक सकती है।

वित्तीय स्थितिः अक्टूबर मास धनु राशि के जातक एवं जातिकाओं को वित्तीय संदर्भों को मज़बूत बनाने के अनेक सुखद अवसर देने वाला रहेगा। कहीं न कहीं से धन की वृद्धि रहेगी। वैसे इस मास के दूसरे व चौथे भाग नगदी पूंजी बढ़ाने के लिहाज से अधिक अनुकूल रहेगे। आपके जीवन स्तर में सकारात्मक बदलाव के योग रहेंगे। किन्तु प्रथम व तृतीय भाग में वांछित परिणामों हेतु कशमकश करनी पड़ सकती है।

शिक्षा एवं ज्ञानः अक्टूबर मास में धनु राशि के जातकों को वार्षिक पाठ्यक्रमों व तकनीक शिक्षा के संदर्भों में ख्याति प्राप्त होने के योग रहेंगे। यदि आप प्रतियोगी व क्रीड़ा संदर्भों में नई ऊंचाइयों को छूने को आतुर हैं, तो इस माह के द्वितीय व चतुर्थ भाग आपके लिए अच्छे साबित रहेगे। किन्तु पहले व तीसरे भाग में संबंधित क्षेत्रों में मुस्तैदी बनाए रखना होगा।

स्वास्थ्यः अक्टूबर माह में धनु राशि के जातक व जातिकाओं को स्वास्थ्य को बेहतरीन बनाने के सुखद अवसर रहेगे। इस माह के प्रथम व तृतीय भाग में आप स्वास्थ्य संदर्भों में ताजगी का एहसास करेंगे। इस दौरान आप हर कदम में सेहत को सुधारने में कामयाब रहेगे। किन्तु द्वितीय व चतुर्थ भाग में मौसमी बीमारियों की आशंका रहेगी।

उपयोगी उपायः धनु राशि के जातकों को निम्नांकित उपाय करने चाहिए जो निश्चित ही फलदायक रहेगेः

  1. ऊॅं ग्रां ग्रीं ग्रौं सः गुरवै नमः मंत्र का जाप करें व दान दें।
  2. गाय को हरे चारे व पानी के साथ ही छाया की व्यावस्था करना।
  3. निः शुल्क स्वच्छ शीतल जल का दान। (सार्वजानिक प्रयोग हेतु)
  4. बंदरों को मौसमी फलों का दान।