कर्क का मासिक राशिफ़ल हिंदी में । Cancer Hindi Monthly Horoscope
Pavitra Jyotish Kendra
Ganesha Pavitra Jyotish

कर्क राशि मासिक राशिफल

कर्क राशि मासिक राशिफल

कर्क मासिक राशिफल अगस्त 2018

माह अगस्त 2018 की गृह स्थितियों अनुसार मासिक फल निम्न प्रकार है:

कैरियर और व्यापार–  इस माह के मध्य तक शुभाशुभ परिणाम प्राप्त होने के आसार रहेगे। किन्तु भग्येश के प्रबल होने से कैरियर को निखारने और संवारने में महती प्रगति के योग रहेंगे। कर्मेश का शुभ संबंध कार्मिक क्षेत्रों में पदोन्नति दायक रहेगा, यदि आप व्यावसायी है, तो इस माह के तृतीय भाग से अधिक शुभ परिणाम प्राप्त होने के योग रहेगे।

प्रेम एवं सम्बंधः मास अगस्त  प्रेम व संबंधों के लिहाज अनुकूलता को बढ़ाने वाला रहेगा। यदि छोटी-छोटी परेशानियों को छोड़ दे, तो कुल मिलाकर इस माह आपको अधिक सकारात्क परिणाम प्राप्त होने के योग रहेगे। इस माह के तृतीय भाग और चतुर्थ भाग में अधिक अनुकूल परिणाम प्राप्त रहेगे साथी के अनुकूल वस्त्राभूषणों की खरीद को मूर्तरूप दिया जा सकता है। इस माह का अंतिम भाग दाम्पत्य जीवन को संवारने वाला रहेगा।

वित्तीय स्थितिः  इस मास में कर्क राशि के जातक एवं जातिकाओं की वित्तीय स्थिति तरक्की की ओर अग्रसर रहेगी। पारिवारिक जीवन मे सुख-सुविधाओं को बढ़ाने के सुअवसर रहेगे। इस के द्वितीय भाग से लाभेश के साथ शुभ गोचर होने से लाभप्रदता की स्थिति और सुदृढ़ रहेगी। किन्तु तृतीय भाग में व्यय की अधिकता और धन संग्रहण में कशमकश करनी पड़ सकती है। अर्थात् इस माह कर्क राशि के जातकों को मिलेजुले परिणाम प्राप्त होने के आसार रहेंगे।

शिक्षा एवं ज्ञानः– अगस्त  माह में कर्क राशि के जातक एंव जातिकाओं के शैक्षिक व बौद्धिक स्तर में निखार रहेगा। किए गए प्रयासों का बढि़या लाभ रहेगा। प्रतियोगी व तकनीक क्षेत्रों में तरक्की रहेगी। इस माह के मध्य तक प्रबंधन, कला, कानून साहित्य, व भाषाई कौशल को निखारने के योग रहेंगे। यद्यपि तृतीय भाग से मिलेजुले परिणामों के आसार रहेगे। क्योंकि ज्ञानेश मंगल की स्थिति स्वगृही किन्तु मिश्रित परिणाम देने वाली रहेगी।

स्वास्थ्यः अगस्त  माह सेहत के लिहाज से कर्क राशि के जातक एवं जातिकों को कई अपेक्षित किन्तु मिश्रित परिणाम देने वाला साबित रहेगा। इस माह के मध्य में शारीरिक संदर्भों में ताकत का एहसास रहेगा। यद्यपि लग्नेश का शुभ संयोग इस दौरान जोश और उत्साह को बढ़ाने वाला रहेगा। किन्तु गोचर स्थिति के कारण इस माह के अंत में स्वास्थ्य संदर्भों में पीड़ाएं हो सकती हैं। संबंधित पहलुओं में सावधानी अपेक्षित रहेगी।

उपयोगी उपायः— अशुभ फल की समाप्ति हेतु इस राशि के जातक एवं जातिकाओं को भगवान शिव, सूर्य की अर्चना व ब्रह्मणों को दान-दक्षिणा देना अनिष्ट फल को हटाने में कारगर होगा। सोमवार का व्रत व सफेद वस्तुओं चांदी आदि का दान देना शुभप्रद रहेगा। संबंधित ग्रहों की शांति व पुष्टि कर्म करने से वांछित शुभ फलों को प्राप्त किया जा सकता है।