2018 तुला राशि वार्षिक राशिफल

2018 तुला राशि वार्षिक राशिफल

2018 तुला राशि का वार्षिक भविष्यफल

इस राशि के जातकों को नववर्ष आजीविका के संबंधित क्षेत्रों में लाभ दिलाने वाला साबित होगा। यद्यपि राशि स्वामी के मित्र शनि के प्रभाव वश जातकों को भू-भवन के संदर्भों में लाभ होगा। दलाली, उत्पादन, कानूनी कार्यों में जातकों को वर्ष पर्यन्त लाभ प्राप्त होगा। परन्तु मंगल का संचरण फरवरी माह में चिंताएं दे सकता है। वर्ष के मध्य भाग में स्वजनों के मध्य तालमेल का आभाव झलक सकता है, अचानक ही कहीं लंबी यात्रा में जाना पड़ सकता है। कार्य में छोटी-छोटी रूकावटे हो सकती हैं व सेहत मे सुस्ती व्याप्त हो सकती है। वर्ष के अंतिम भाग में जातकों को पद व प्रतिष्ठा का लाभ प्राप्त होगा। धनार्जन की स्थिति में सुधार संभव हैं।

अपनी व्यक्तिगत समस्या के निश्चित समाधान हेतु समय निर्धारित कर ज्योतिषी पंडित उमेश चंद्र पन्त से संपर्क करे | हम आपको निश्चित समाधान का आश्वासन देते है |

उपायः– इस राशि के जातकों को संबंधित अनिष्ट हटाने हेतु हनुमान प्रभु व परमेश्वर शिव की पूजा अर्चना शास्त्रीय विधि के अनुसार करने से लाभ होगा। गौ सेवा भी अपेक्षित है।

2018 सामान्य

वर्ष 2018 तुला राशि के जातक एवं जातिकाओं को आजीविका के संदर्भों में व्यापक प्रगति के संकेत रहेंगे। किए गए प्रयासों का बढ़िया…

2018 कैरियर और व्यापार

तुला राशि के जातक और जातिकाओं को वर्ष 2018 कैरियर को संवारने व संबंधित क्षेत्रों में बढ़त बनाने तथा व्यावसायिक जीवन को चमका…

2018 प्रेम एवं संबंध

वर्ष 2018 तुला राशि के जातक और जातिकाओं को इस वर्ष के प्रथम द्वितीय, तृतीय व चतुर्थ त्रैमास जनवरी से सितम्बर के मध्य भाग तक…

2018 वित्तीय स्थिति

नववर्ष 2018 तुला राशि के जातक और जातिकाओं को इस वर्ष के शुरूआती दौर से ही वित्तीय संदर्भों में अनुकूल व प्रतिकूल दोनों तरह के परिणाम…

2018 शिक्षा एवं ज्ञान

शिक्षा एवं ज्ञान वर्ष 2018 तुला राशि के जातक और जातिकाओं को इस वर्ष के शुरूआती दौर से ही शैक्षिक पहलुओं को निखारने के बेहतर…

2018 स्वास्थ्य

वर्ष 2018 मे तुला राशि के जातक और जातिकाओं को इस वर्ष दैहिक सुखों को बढ़ाने व सेहत को खिलाएं रखने के शुभ व सकारात्मक अवसर…

2018 उपयोगी उपाय

नववर्ष 2018 में तुला राशि के जातक और जातिकाओं को विविध मामलों में अनुकूलता प्राप्त करने लिए निम्नांकित उपाय करने चाहिए जो निश्चित ही फलदायक रहेंगेः